• Values

चतुः श्लोकी भागवत हिंदी भावार्थ सहित

Recent Articles




मनुष्य जीवन सांसारिक गतिविधियों और उठापटक से ओतप्रोत रहता है , कुछ लोग सांसारिक मोहमाया में फंसकर जीवन के लक्ष्य को नहीं समझ पाते है और उसी में फँस के रह जाते है उन्हें इस सांसारिक चक्र से मुक्ति दिलाने के लिए श्रीमद्भागवत हमेशा से ही एक प्रबल माध्यम रहा है चूँकि आजकल मनुष्य के पास इतना समय नहीं होता की वह श्रीमद्भागवत का प्रतिदिन पाठ कर सके उनकी इसी समस्या के समाधान के लिए हम अपने पाठको के  लिए चतुः श्लोकी भागवत भावार्थ सहित लेकर आये है … उम्मीद है की यह श्लोक आपके जीवन में सफलता ,समृद्धि और शांति लेकर आए !

 

श्रीभगवानुवाच

श्रीमद्भागवत, श्रीमद्भागवत कथा , चतु: श्लोकी श्रीमद्भागवत, श्रीमद्भागवत कथासार, हिन्दुधर्म , सनातनधर्म

अहमेवासमेवाग्रे नान्यद् यत् सदसत् परम्।
पश्चादहं यदेतच्च  योऽवशिष्येत सोऽस्म्यहम् ॥१॥

श्री भगवान कहते हैंसृष्टि से पूर्व केवल मैं ही था। सत्, असत् या उससे परे मुझसे भिन्न कुछ भी नहीं था। सृष्टि रहने पर (प्रलय काल में) भी मैं ही रहता हूँ। यह सब सृष्टि रूप भी मैं ही हूँ और जो कुछ इस सृष्टि, स्थिति तथा प्रलय से बचा रहता है, वह भी मै ही हूँ॥१॥





 

 

ऋतेऽर्थं यत् प्रतीयेत प्रतीयेत चात्मनि।
तद्विद्यादात्मनो मायां  यथाऽऽभासो यथा तमः ॥२॥

जो मुझ मूल तत्त्व के अतिरिक्त (सत्य सा) प्रतीत होता(दिखाई देता) है परन्तु आत्मा में प्रतीत नहीं होता (दिखाई नहीं देता), उस अज्ञान को आत्मा की माया समझो जो प्रतिबिम्ब या अंधकार की भांति मिथ्या है॥२॥

 





 

यथा महान्ति भूतानि भूतेषूच्चावचेष्वनु।
प्रविष्टान्यप्रविष्टानि तथा तेषु तेष्वहम्॥३॥

जैसे पंचमहाभूत (पृथ्वी, जल, अग्नि, वायु और आकाश) संसार के छोटेबड़े सभी पदार्थों में प्रविष्ट होते हुए भी उनमें प्रविष्ट नहीं हैं, वैसे ही मैं भी सबमें व्याप्त होने पर भी सबसे पृथक् हूँ।॥३॥

 

 





एतावदेव जिज्ञास्यं तत्त्वजिज्ञासुनाऽऽत्मनः।
अन्वयव्यतिरेकाभ्यां यत् स्यात् सर्वत्र सर्वदा॥४॥

आत्मतत्त्व को जानने की इच्छा रखने वाले के लिए इतना ही जानने योग्य है कि अन्वय (सृष्टि) अथवा व्यतिरेक (प्रलय) क्रम में जो तत्त्व सर्वत्र एवं सर्वदा(स्थान और समय से परे) रहता है, वही आत्मतत्त्व है॥४॥

 

See Also:

हिन्दू मान्यताओ के अनुसार अमरत्व प्राप्त है इन ८ चिरंजीवियों को





जानिए माँ दुर्गा के ९ रूपो के बारे में | नवरात्री स्पेशल

रहीम दास के १५ लोकप्रिय दोहे हिंदी अर्थ सहित

Life Management Lesson from Samudra Manthan | Story in Hindi

15 amazing Facts You Should Know About Tirupati Balaji

 

If you like this post, Then please, share it in different social media. Help our site to spread out.

 

[divider scroll_text=”Back To Top”]








30 Russian Drawing Pics Is Not For Normal...

You are a person who enjoys a bit cruel humor, this post is for you. Life is funny, and life is cruel. For Some...

Cardrona Valley Bra Fence | Controversial Tourist Attraction...

A fence in rural New Zealand is covered in bras, and not everyone is happy about it. The Cardrona Bra Fence is a controversial...

25 Cool, Weird New Year Celebrations Traditions Around...

How do people around the world celebrate New Year's Day? When it comes to celebrating the New Year it seems that everyone has their...

12 Interesting & Strange Facts about USA President...

Barack Obama is the 44th president of the United States, but there is a lot more to know about this popular president. He’s won...

Ksar Ouled Soltane, A Fortifed Granary in Africa

Located about 20 km south of the city of Tataouine, in southern Tunisia, Ksar Ouled Soltane is an attractive and well-preserved fortified granary built...

Health Benefits of Pistachio | 12 Amazing &...

Pistachio nuts have long been revered as the symbol of wellness and robust health since ancient times. The kernels are enriched with many health-benefiting...